शांत वार्ता के बीच अफगानिस्तान में बम विस्फ़ोट, 50 से अधिक लोग घायल

हेरात अफगानिस्तान (रायटर्स ) शांत वार्ता के बीच शुक्रवार रात हेरात के एक पुलिस स्टेशन के पास एक शक्तिशाली कार बम विस्फोट हुआ जिसमे कम से कम सात लोगों की मौत हो गई और 50 से अधिक लोग घायल हो गए हैं ।

हेरात के गवर्नर सईद अब्दुल वाहिद क़ताली का कहना है कि मरने वालों में कई महिलाएं और बच्चे भी शामिल हैं।

रायटर्स की रिपोर्ट के अनुसार कल शाम को शहर के भीड़-भाड़ वाले हिस्से में विस्फोटकों से भरी एक वैन आकर कड़ी हुई कुछ देर के उस वैन में विस्फ़ोट हुआ जिससे वहां पर मौजूद नागरिकों और सुरक्षा बलों सहित 53 लोग गंभीर रूप से घायल हो गए हैं ।

हेरात के गवर्नर क़लाती ने कहा कि विस्फोट में दर्जनों घर और दुकानें भी क्षतिग्रस्त हुई हैं, और बचाव दल घटनास्थल पर पहुंच गए और मलबे में फंसे कई लोगों की मदद की जा रही है ।

एक वरिष्ठ स्वास्थ्य अधिकारी, मोहम्मद रफीक शेरजई के अनुसार, दो महिलाएं, तीन बच्चे और दो पुरुष और एक सेना के एक सदस्य सहित आठ लोगों को नज़दीक के अस्पताल में भर्ती कराया गया है। इनके अलावा 40 दूसरे घायलों की हालत सीरियस बताए जा रही है

बता दें कि अभी तक किसी ने भी इस हमले की जिम्मेदारी नहीं ली लेकिन स्थानीय अधिकारियों ने तालिबान विद्रोहियों को दोषी ठहराया है। ग़ौरतलब है कि अफगान सरकार कतर की राजधानी दोहा में विद्रोही तालिबान के बीच शांति वार्ता भी चल रही है

U.N. सुरक्षा परिषद ने एक बयान जारी करके “अफगानिस्तान में नागरिकों को जानबूझकर निशाना बनाने वाले हमलों की निंदा की है ।

सुरक्षा परिषद ने कहा कि जल्द से जल्द अफगानिस्तान में इस तरह के हमलों को ख़त्म किया जाए और जो लोग इस तरह की वारदात अंजाम देते हैं उनको कड़ी से कड़ी सजा दी जाए।

अफगानिस्तान के राष्ट्रपति अशरफ गनी ने हमले की कड़ी निंदा करते हुए तालिबान को दोषी ठहराया। गनी ने एक बयान में कहा, तालिबान ने लोगों के खिलाफ अपने नाजायज युद्ध और हिंसा को जारी रखते हुए एक बार फिर दिखाया कि उन्हें न केवल मौजूदा संकट को शांति से हल करना होगा, बल्कि स्थिति को कठिन से कठिन बनाने पर लगे हुए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

9 − three =

Hot Topics

Related Articles